वोल्गा से गंगा – राहुल सांकृत्यायन द्वारा मुफ्त ऐतिहासिक हिंदी पीडीएफ पुस्तक | Volga Se Ganga : by Rahul Sanskrityayan Free Historical Hindi PDF Book

पुस्तक का विवरण : मानव आज जहाँ है, वहां प्रारम्भ में ही नहीं पहुँच गया था, इसके लिए उसे बड़े बड़े संघर्षों से गुजरना पड़ा| मानव समाज की प्रगति का सैद्धान्तिक विवेचन मैंने अपने ग्रन्थ “मानव समाज” में किया है| इसका सरल चित्रण भी किया जा सकता है, और उससे प्रगति के समझने में आसानी हो सकती हैं, इसी ख्याल ने मुझे “वोल्गा से गंगा” लिखने के लिए मजबूर किया| मैंने यहाँ से हिन्दी-यूरोपीय जाति को लिया है, जिसमें भारतीय पाठकों को सुभीता होगा…………..

Description about eBook : The human being has not reached the beginning where it is today, for which he had to undergo major conflicts. I have done theological explanation of the progress of human society in my book “Human Society”. It can also be illustrated with simplicity, and it can be easy to understand progress, this thought forced me to write “Ganga from Volga”. I have taken Hindi-European nation from here, in which Indian readers will be well-educated………………

44 Books पर उपलब्ध सभी हिंदी पुस्तकों को देखने के लिए – यहाँ दबायें