महान कृषि वैज्ञानिक प्रो. धर : भारतेंदु हरिश्चंद्र द्वारा हिंदी पुस्तक | Mahan Krishi Vaigyanic Prof. Dhar : by Bhartendu Harish chandra Hindi Book

http://www.dli.ernet.in/bitstream/handle/2015/493606/MAHAN-KRISHI-.pdf?sequence=1&isAllowed=y

 

पुस्तक का विवरण / Description about ebook : बंगाल की शस्य श्यामला भूमि ने पांच महँ विज्ञानं-रत्नों को जन्म दिया, ये हैं- प्रफुल्लचन्द्र रे, जगदीश चन्द्र बोस, नीलरत्नधर, मेघनाथ साहा तथा सत्येन्द्र नाथ बोस | इनमें से डॉ. नील रत्न धर अन्य चार वैज्ञानिकों से इस अर्थ में भिन्न हैं कि प्रथम दो तो उनके गुरु थे और अन्य दो में से एक- डॉ. मेघनाथ साहा उनके शिष्य थे | डॉ. धर मूलतः रसायनवेत्ता थे किन्तु बाद में वे कृषिविज्ञानी के रूप में प्रसिद्ध हुए | प्रस्तुत पुस्तक इस महान कृषिविज्ञानी के जीवन-चरित के रूप में लिखी गयी है | आज जब कि किसी भी महानपुरुष की जन्मशती मानाने का आम प्रचलन बन चूका है, यदि हम अपने इस महान कृषि वैज्ञानिक की जन्म शती पर उनके जीवन-मूल्यों की विशद विवेचना एवं समीक्षा करते हैं तो यह समीचीन है……………

44 Books पर उपलब्ध सभी हिंदी पुस्तकों को देखने के लिए – यहाँ दबायें