कालिंदी के किनारे : रामकुमार भ्रमर द्वारा मुफ्त हिंदी उपन्यास  पीडीएफ पुस्तक | Kalindi Ke Kinare : by Ramkumar Bhramar Free Hindi Novel PDF Book 

पुस्तक का विवरण : प्रस्तुत पुस्तक में भगवन श्री कृष्ण की बाल्यावस्था के साथ-साथ उस समय घटी अनेक घटनाओंका वर्णन किया गया है| श्री कृष्ण की बाल्यावस्था और गोकुल में रहने के समय की बहुत सी घटनाएँ अलौकिकता से पूर्ण हैं और उनके लौकिक तर्क ढूंढने लगभग असंभव हैं, पर जिस तरह श्रद्धालुओं ने उस काल की अनेक लौकिक घटनाओं को भी अलौकिक बना डाला है अथवा भक्तिरस से सरोवर होकर अनेक कवियों ने श्री कृष्ण के सहज मानवीय कर्मों को भी असहज बना दिया है, प्रतिबिम्बों और रूपकों के घटाटोप में जकड़कर असामान्यता और जटिलता प्रदान कर दी है, उससे में सहसा सहमत नहीं हो पाया हूँ………….

Description about eBook : Lord Krishna’s childhood presented in this book as well as a number of events that occurred is described. Gokul Krishna’s childhood and lots of time to live in the supernatural events are complete and are almost impossible to find their temporal reasoning. Many of the pilgrims at the time into a supernatural cosmic events also have. Or the lake, and many poets devotional reverence Krishna natural human actions have made too uncomfortable, bound in clear images and metaphors gave abnormality and complexity, in that I suddenly could not agree………….

44 Books पर उपलब्ध सभी हिंदी पुस्तकों को देखने के लिए – यहाँ दबायें