एक किशोरी फुलझड़ी- सी : टी पद्मनाभन द्वारा मुफ्त कहानी संग्रह हिंदी पीडीएफ पुस्तक | Ek Kishori Fuljhadi Si : by T Padmanabhan Free Story Collection Hindi PDF Book 

पुस्तक का विवरण : “एक किशोरी फुलझड़ी” सी टी पद्मनाभन द्वारा लिखित कहानियों का संग्रह है जो मूल रूप से मलयालम भाषा में लिखा गया था । चूंकि “प्रकाशम पर्तुना ओरु पदुकुत्ति” जो एन.इ. विश्वनाथ अय्यर द्वारा एक किशोरी फुलझड़ी सी का हिन्दी में अनुवाद किया जा रहा है।”एक किशोरी फुलझड़ी” हिंदी की बारह कहानियों का संग्रह है जो टी पद्मनाभन द्वारा लिखा गया है। कहानियों के नामों में से कुछ कर रहे हैं – “यादों का झरोखा”, “त्याग की मूर्ति”, “शेखू”, “पतिदेव”, “छोटी जिंदगी और बड़ी मौत”, “कांचा”, “झड़ी मानव आत्माए”, आदिपुस्तक का नाम भी टी पद्मनाभन की एक कहानी के बाद “एक किशोरी फुलझड़ी” का खिताब दिया गया है। इसके अलावा कार्ल मार्क्स और फ्रेडरिक एंजेल्स द्वारा धर्म पढ़ा जिसमें आप रूसी क्रांति की एक झलक और लेनिन और कार्ल मार्क्स का योगदान हो रही होगी।”एक किशोरी फुलझड़ी” कहानियाँ जो न केवल आप का मनोरंजन करेंगे लेकिन यह भी आप साज़िश का एक बहुत ही रोचक और मनोरंजक संग्रह है…………..

Description about eBook : “Ek Kishori Fuljhadi Si” is a collection of stories written by T Padmanabhan which originally was written in Malayalam. Since “Prakasam Prhuna Oru Pdukutti” which Ankik Sparklers C. Vishwanath Iyer a teenager being translated into Hindi. “Ek Kishori Fuljhadi Si” is a collection of twelve stories in Hindi, which is written by T. Padmanabhan. Stories are some of the names – “window of memories”, “sacrifice sculpture”, “Seku,” “husband,” “small life and large death”, “Kancha”, “Showers Human Souls”, of Adipustk named after a story by T. Padmanabhan, “Ek Kishori Fuljhadi Si” is the title of. Also read Karl Marx and Friedrich Engels in which religion you a glimpse of the Russian Revolution and Lenin and Karl Marx’s contribution will be. “Ek Kishori Fuljhadi Si” stories that will not only entertain you but also a lot of intrigue interesting and amusing collection……………….

44 Books पर उपलब्ध सभी हिंदी पुस्तकों को देखने के लिए – यहाँ दबायें