कन्या शुल्कम : गुरुजाडा अप्पाराव द्वारा  हिंदी पुस्तक | Kanya Shulkam : by Gurazada Apparao Hindi Book 

https://docs.google.com/uc?export=download&id=0ByNAWMS6iDsEVzNvV3piV18tUVU

पुस्तक का विवरण / Description about ebook : श्रीमान विजयनगर के महाराजा के आदेश प[आर विशाखापटनम के ब्राह्मण परिवारों में जितने विवाह हुए, उनकी तालिका दस वर्ष पहले तैयार की गयी थी | सम्बंधित व्यक्ति कन्याशुल्क लेने की बात स्वीकार करने को तैयार नहीं हुए | इसलिए वह तालिका पूर्ण नहीं हुई | फिर भी, वह तालिका एक कीमती और दिलचस्प दस्तावेज बन गयी | प्रमाणित विवाह की संख्या 1084 तक पहुँच गयी जिसका औसत प्रति वर्ष 344 पड़ता है | इनमें निन्यानवे बालिकाएं उम्र में 5 वर्ष की, 44 बालिकाएं 4 वर्ष की, 36 लड़कियां 3 वर्ष की, 6 लड़कियां 2 वर्ष की और 3 लड़कियां 1 वर्ष की थीं जब वे विवाह के सूत्र में बांध गयीं …………….

44 Books पर उपलब्ध सभी हिंदी पुस्तकों को देखने के लिए – यहाँ दबायें